सुशांत फंस के लिए बड़ी खबर स्कूल में पढ़ाया जायेगा


बात कड़वी हैं लेकिन सच हैं. इंसान की असली कीमत उसके मरने के बाद ही पता चलती हैं. या फिर किसी पॉपुलर इंसान की मौत को किस तरह से अपने अपने निजी स्वार्थ के लिए इस्तेमाल किया जा सकता हैं वो भी हम देख ही रहे है. कुछ यही चीज़ सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर भी हो रही हैं.

पहले बिहार इलेक्शन में जमकर फायदा उठाया गया. जब सुशांत ज़िंदा थे तब उन्हें कोई सम्मान नहीं दिया गया लेकिन उनकी मौत के बाद एक के बाद एक अवार्ड दिए जा रहे हैं. सड़कों के नाम रखे जा रहे हैं. क्या इन चीज़ों को देखने के लिए सुशांत ज़िंदा हैं.

अब जैसा की पहले भी मैंने कहा था की बिहार के बाद बंगाल इलेक्शन में सुशांत का इस्तेमाल किया जायेगा तो ये काम वेस्ट बंगाल की सरकार ने कर दिया हैं. कोरोना के चलते स्कूल तो बंद हैं लेकिन स्कूल के नाम पर राजनीती बहुत बढ़िया चल रही हैं.

अब वेस्ट बंगाल की सरकार ने क्लास तीसरी के एक पुस्तक में सुशांत सिंह राजपूत की तस्वीर को इस्तेमाल किया हैं. उनकी तस्वीर के साथ छिपकली और गाय की भी तस्वीर हैं. विषय ये हैं की इंसान और जानवर में क्या फर्क हैं. एक अच्छे इंसान की जगह पर सुशांत की तस्वीर लगा दी तो दूसरी तरफ जानवर क्या होता हैं वो तो आलरेडी लगी हुयी हैं.

वैसे ये खबर एक ही समय में अच्छी भी हैं बुरी भी हैं. अच्छी इसलिए की सुशांत का नाम एक अच्छे काम में लिया जा रहा हैं. दूसरी ये हैं की सुशांत को इंसाफ तो कोई भी पार्टी नहीं दिला पा रही हैं लेकिन उनके नाम का इस्तेमाल बहुत ज़्यदा किया जा रहा हैं.

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: News

DON'T MISS