रिलीज़ से पहले सूर्यवंशी को 50 करोड़ का नुकसान मेगास्टार, मेगा बजट, मेगा प्रोडूसर्स से भरी है फिल्म घाटा


सलमान खान की फिल्म राधे जब रिलीज़ होने वाली थीं तब ये अनुमान लगाया जा रहा हैं की फिल्म 300 करोड़ से ज़्यादा का बिजनेस करेगी. लेकिन फिल्म ने कमाए सिर्फ 18 करोड़. अब रोहित शेट्टी की फिल्म सूर्यवंशी जो पिछले एक साल से इंतज़ार कर रही हैं की फिल्म को सिनेमाघर में ही रिलीज़ करेंगे. लेकिन कोरोना के चलते अब तक रिलीज़ नहीं हो सकी.

रोहित शेट्टी चाहते हैं की फिल्म अब पंद्रह अगस्त के दिन रिलीज़ हो. तो 300 करोड़ तक की कमाई कर लेंगे. लेकिन क्या ये पॉसिबल हैं की सूर्यवंशी सिनेमाघर में रिलीज़ होगी तो 300 करोड़ काम लेगी. ऐसा नहीं हो सकता हैं. इसकी क्या क्या वजह हैं इस वीडियो में देखने के बाद पता चल जाएगा.

इस फिल्म को रोहित शेट्टी ने डायरेक्ट किया हैं. रोहित शेट्टी से किसी को कोई प्रॉब्लम नहीं हैं. अपने काम से काम मतलब रखते हैं. ये इस फिल्म का प्लस पॉइंट हैं. लेकिन इस फिल्म में माइनस पॉइंट्स क्या हैं वो समझ लो.

फिल्म मेगा स्टार्स से भरी फिल्म हैं. अक्षय कुमार, अजय देवगन, रणवीर सिंह, जैकी श्रॉफ, कटरीना कैफ. इसमें से जैकी श्रॉफ को छोड़ दिया जाये तो बाकी सभी कलाकारों से जनता नाराज़ हैं. खासकर सुशांत सिंह राजपूत के फैंस.

अक्षय कुमार की लक्ष्मी की जमकर आलोचना की गयी थीं. फिल्म का लक्ष्मी बम रखा जिससे हिन्दू धर्म के लोग नाराज़ हो गए फिर फिल्म में लव जिहाद को बढ़ावा देने का आरोप लगा. फौजी गेम को लेकर भी अक्षय कुमार की क्लास लगा दी गयी. आरोप ये लगा की ये गेम सुशांत का हैं. हालांकि सुशांत केस अभी चल रहा हैं इसलिए सच कुछ भी सामने नहीं आया.

रणवीर सिंह को इस वक्त कोई पसंद नहीं कर रहा हैं. एक तो उनका जोकरपन दूसरा उनकी पत्नी दीपिका पादुकोण जिसके ऊपर गांजा फूंकने का आरोप लगा, एनसीबी ने पूछताछ के लिए कई बार बुलाया. फिर सुशांत की मौत के तुरंत बाद ही डिप्रेशन को लेकर वीडियो बनाना की तुम डिप्रेशन में हो तो मुझे कांटेक्ट करो. यानी ये दिखाना चाहती थीं की सुशांत ने डिप्रेशन के चलते आत्महत्या कर ली हैं जो की पूरा बॉलीवुड साबित करने में लगा था.

अजय देवगन से कोई बड़ी प्रॉब्लम नहीं हैं लेकिन अजय देवगन और रोहित शेट्टी के साथ बॉलीवुड की 34 प्रोडक्शन हाउस ने अर्नब गोस्वामी, रिपब्लीक भारत, टाइम्स नाउ, राहुल शिवशंकर, नाविका कुमार और प्रदीप भंडारी के खिलाफ केस कर दिया क्यूंकि ये सभी लोग सुशांत केस में बार बार बॉलीवुड का नाम ले रहे थे.

कटरीना कैफ से वैसे तो किसी का कुछ लेने देना नहीं. सलमान खान के नाम पर फिल्मे मिलती हैं. बस इतनी ही अचीवमेंट हैं. लेकिन अब जो नाम सामने आ रहा हैं वो इस फिल्म के लिए सबसे बड़ा घाटे का नाम बनाने जा रहा हैं.

सूर्यवंशी को 135 करोड़ में बनाया गया हैं. जिसमे एक दो नहीं बल्कि आठ प्रोडूसर्स हैं. रोहित शेट्टी, करन जौहर, हीरु यश जौहर,अरुण भाटिया, अपूर्व मेहता, रिलायंस एंटरटेनमेंट, केप ऑफ़ गुड फिल्म्स और धरमा प्रोड्कशन. फिल्म को डिस्ट्रीब्यूट करने का काम कर रही हैं PVR Pictures जो आलरेडी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ३०० करोड़ के घाटे में चल रही हैं.

इन सभी प्रोडूसर्स में करण जौहर वो नाम हैं जो इस फ़िल्मको डुबाने में सबसे अहम रोल अदा करनेवाला हैं. करण जौहर आलरेडी घाटे में चल रहे हैं. फॉक्स स्टूडियो ने जब से अपना हाथ खींचा हैं तब से करण जौहर की फिल्मे बनाने की स्पीड कम हो गयी. ब्रह्मास्त्र पिछले तीन से बन रही हैं लेकिन पूरी नहीं हो सकी. तख़्त करण जौहर का ड्रीम प्रोजेक्ट था जिसे पैसे न मिलने के चलते हमेशा हमेशा के लिए बंद कर दिया गया. करण जौहर की पांच बड़ी फिल्मे अभी भी अधर में लटकी हैं. बाकी करण जौहर से जो नफरत हैं वो इस फिल्म को ले डूबेगा.

135 करोड़ बजेटवाली इस फिल्म के प्रमोशन के लिए पहले ही २५ करोड़ खर्च किये जा चुके हैं. कोरोना आया और ये सारा प्रमोशन बेकार हो गया. अब अगर रोहित शेट्टी इस फिल्म को पंद्रह ऑगस्ट को रिलीज़ करना चाहते हैं तो पूरी टीम को फिर से प्रमोशन के लिए 25-30 करोड़ खर्च करने होंगे. यानी ये पचास करोड़ तो पहले ही नुकसान में जा रहे.

चलो मान लेते हैं फिल्म सिनेमाघर में पंद्रह अगस्त को रिलीज़ होती हैं तो क्या सिनेमाघर हाउस फूल हो जायेंगे. बिलकुल नहीं. क्यूंकि एंटरटेनमेंट इस वक्त किसी को नहीं चाहिए. जिसे चाहिए वो किसी भी फिल्म को कहीं से भी डाउनलोड करके देख सकती हैं.

पूरी फॅमिली के साथ सिनेमाघर में जाना मतलब मिनिमम दो हज़ार का नुकसान वो भी तीन घंटे के भीतर. सिनेमाघर तक जाने के लिए ऑटो टैक्सी का भाड़ा, टिकट का खर्चा, फिर पोपकोर्न और कोल्ड्रिंक का खर्चा फिर घर आने के लिए वापस से ऑटो टैक्सी का भाड़ा कोई क्यों करें.

पिछले साल के लॉक डाउन से लोग सम्भले भी नहीं थे की फिर से लॉक डाउन. अगर बॉलीवुड ये कहता हैं जो की करोडो में खेलनेवाले लोग हैं. वो कहते हैं की इस लॉक डाउन के चलते उन्हें बहुत घाटा हुआ हैं तो क्या आम जनता जिनका काम तीन महीने से बंद हैं. उधार मांगकर गुजरा चल रहा. ना जाने कितने ही लोग अपनों से बिछड़ गए. वो लोग सिनेमाघर में बॉलीवुड की फिल्म देखने जायेंगे.

अगर कोई जाता हैं तो समझो या तो उसके पैसे की कमी नहीं हैं या फिर वो निहायती बेवक़ूफ़ हैं जो अपनी जान खतरे में डालकर किसी भी फिल्म को देखने जायेगा.300 करोड़ कमाने की बात तो छोड़ दो. तीस करोड़ भी कमा लिए तो बहुत बड़ा अमाउंट होगा.

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: Entertainment

DON'T MISS