Radhe Review | मर जाना लेकिन राधे ना देखना


क्या राधे का रिव्यु देखने आये हो ? अरे भैया कोई रिव्यु नहीं करनेवाले हैं. हम भी खुद से कमिटमेंट किये हैं की सलमान की फिल्म नहीं देखेंगे. दो घंटे बर्बाद करने से बेहतर हैं की दो घंटे राम नाम की माला जप लें. शायद मोक्ष की प्राप्ति हो जाएं.

सोचता हूँ सलमान खान के बारे में बात ना करूँ. लेकिन जब तक दो चार बुराई ना कर दूँ दिल को तसल्ली नहीं मिलती हैं. IMDB पर राधे को दो की रेटिंग मिली है इस हिसाब से राधे को फिल्म क्यों बोल रहे हो ..इसे तो पेनडेमीक घोषित कर देना चाहिए.

चिड़िया घर में जाकर बंदर देख लो, भालू देख लो. डायनसोर देख लो. डायनसोर … अरे दादा इनकी प्रजाति तो कब की विलुप्त हो गयी हैं. हमको तो लगता हैं भैया डायनसोर वाले ज़माने में भी कउनो सलमान खान टाइप का वायरस गिरा होगा तभी डायनसोर मर गए.

हां तो कहा थे …चिड़िया घर में जाकर बंदर देख लो, भालू देख लो. लेकिन सलमान की फिल्म गलती से ना देखना. और मैंने भी नहीं देखा भाई. दो साल पहले दबंग देखी थीं तब से माइग्रेन की समस्या हो गयी हैं. मुझे नहीं भाई प्रभुदेवा को…जिन भाई साब ने राधे को बनाया हैं. हालाँकि दबंग भी प्रभुदेवा ही बनाये थे.

लेकिन खुद की फिल्म देखने के बाद उनके मुँह से भी निकल गया. है दईया ये क्या बवासीर बना दिया मैंने.

ईमानदारी से कहूंगा. राधे नहीं देखी. लेकिन फेसबुक पर सलमान की छोटी छोटी मीम्स वाली वीडियो और दो चार जोक्स देख लिए. समझ आ गया की मामला क्या है.

सुंनने में आ रहा की शुरुवात में कोई सीन हैं जिसमे सलमान एक साथ फ़्लैश और डॉक्टर स्ट्रेंज दोनों बन गए हैं. लोग दरवाजे से एंट्री लेते और सलमान खान गुंडों को मारने के लिए सीधे खिड़की तोड़कर एंट्री लेते हैं. हैरानी तो अब है क्यूंकि ये काम सलमान हवा में उड़कर शायद बीसवे पचीसवें फ्लोर की खिड़की तोड़ कर विलेन के घर में एंट्री लेते हैं. मतलब सुपरमैन का भी काम कर लिया.

इस सीन को देखने के बाद बेचा सुपरमैन भी बोल रहा हैं तो क्या करू जॉब छोड़ दू अपनी. और यही सीन देखकर पीछे से अर्जुन कपूर गाने लगा. मैं तो सुपरमैन सलमान का फैन.

पीछे से मलाइका भौजी आई और अर्जुन को दो कंटाप लगाई. बोली बैठ. पहले बॉर्न्विटा ख़तम कर फिर गाना गाना. अर्जुन बेचारा भी क्या बोलता. सॉरी शक्तिमान बोलकर बैठ गया.

मलतब साउथ की फिल्म, कोरिया की फिल्म, हॉलीवुड, खुद की दस बारह साल पुरानी फिल्म मिलकर. चीन वाले कोरोना बाबा हक्का नूडल्स का आशीर्वाद लेकर एक वायरस बना दिया हैं. जिसका नाम हैं राधे ..जिसको देखकर हम हो गए आधे.

हैरानी की बात और सुनोगे… कल खबर मिली की दोपहर बारह बजे ज़ी फाय का सर्वर क्रैश हो गया. क्यों ? क्यूंकि सलमान के फँस एक साथ सब सबेरे नहा धोकर बैठ गए. राधे देखनी है राधे देखनी हैं. उनको क्या पता वो किस बवासीर का शिकार होने वाले हैं.

अबे हमें ना सिखाओ यार. ये सर्वर, होस्टिंग और क्रशिंग. स्क्रीन पे लिख कर खुद ही डाल दिया की क्राउड ज़्यादा हैं सर्वर क्रैश हो गया.

अच्छा जैसे ही ये बात हमारे देश के समाज सुधारक लोगो को पता चली की राधे देखने के बाद सर्वर क्रैश हो गया तो उन लोगो ने मानवता का नेक काम करते हुए राधे को सोशल मीडिया पर लीक कर दिया. अब सारी जिम्मेदारी मार्क ज़ुकेरबर्ग भय की ..सर्वर की कोई चिंता नहीं. चाहिए तो सलमान की आठ दस फ्लॉप फिल्मे और अपलोड कर दो. बड़े से बड़े वायरस झेल जाएगा.

सुना है दिशा पाटनी ये फिल्म की एक्ट्रेस हैं. जिनको फिल्म में कहा रखना हैं क्यों रखना हैं. कुछ समझ नहीं आया तो हर दस पंद्रह मिनट के बाद एक गाने में बोल दिया गया जा बेटी नाच. जी ले अपनी ज़िंदगी.

कौन सा पुलिस वाला हैं जो पुलिस की वर्दी नहीं पहनता होगा लेकिन सलमान भाई पूरी फिल्म में टी शर्ट पहन घूम रहे हैं. वही ब्रासलेट, वही टी शर्ट , वही चश्मा, वही नाच गाना और मारपीट. फिल्म बनाई हैं या गाँव देहात में होने वाली शादी में जीजा को गुलाब जामुन ना मिलने जो रायता फैलता है वो बना दिया हैं.

एक वीडियो और वायरल हो रहा जिसमे रणदीप हुड्डा एक सीन में सलमान को लोहे की रॉड से मार रहे हैं. एक दो बार नहीं बल्कि पचीसों बार मारा हो गया. ससुरा लोहा टूट गया लेकिन सलमान का हाथ नहीं टूटा.

और रियलिटी में ऐसा मार सलमान को पड़ जाएं तो तो हाथ टूटकर झूल जाएगा और झूलकर झूला बन जाएगा. ना खा पाएंगे और ना ही धो पाएंगे. खाली हाथ आये हैं खाली हाथ जायेंगे. प्यार के बस गीत गन गुनायेंगे.

रणदीप हुड्डा जैसे कलाकार का तो सत्यानाश कर दिया हैं इस फिल्म में. मुंबई का इतना बड़ा ड्रग डीलर हैं जिसे पकड़ने के लिए 97 एनकाउंटर कर चुके राधे को बुलाया जाता हैं.

रणदीप हुड्डा इतना बड़ा ड्रग माफिया हैं इतना बड़ा ड्रग माफिया हैं जो सिर्फ दो लफंगो को साथ लेकर घूमता. एक ही कपडे दिन भर पहनकर रखते हैं. ना इसके पास रहने के लिए घर है ना कोई ऑफिस. कभी गटर के पास रहता हैं तो कभी किसी और के घर में घुस जाता हैं. खाने के लिए भी कोई टेंशन नहीं हैं. जोमाटो से आर्डर करवा लेता हैं. और जोमाटो वाला आने में देरी करता हैं तो पैकेट खोलकर खुद गांजा फूंक लेता हैं. ज़िंदगी मस्त है जनता पस्त हैं. सलमान के फँस फिर भी बोले वाह राधे क्या मस्त हैं.

सलमान ने कहा था मेरी फिल्म देखोगे तो इससे जो कमाई होगी उसे मैं डोनेट करूँगा. लेकिन दुःख के साथ ये कहना पड़ रहा हैं की इस फिल्म के रिलीज़ के बाद असली डोनेशन को ज़रूरत खुद सलमान खान को हैं. लोग गांजा फूंकते. सलमान ने करोडो रूपये फूंक दिए.नंगा नहायेगा क्या और निचोड़ेगा क्या …. निम्बू.

फिल्म में दिखाया हैं नशा मत करो लेकिन खुद ही गांजा फूंककर फिल्म बना दी हैं. इससे अच्छा तो मैं आल टाइम सुपरस्टार केआरके की देशद्रोही देख लूँ. तो जाओ भाई काम धंदा करो ये फिल्म रिव्यु के चक्कर में मत पड़ो. ज़िंदगी बर्बाद हो जाती हैं.

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: Entertainment

DON'T MISS