Video : किसान ट्रैक्टर परेड के बहाने धोनी को बदनाम करने की कांग्रेस आईटी सेल की साज़िश बेनक़ाब


इस वक्त हमारे देश में पिछले दो महीने से किसान आंदोलन का मुद्दा गरमाया हैं. ठीक एक साल पहले शाहीन बाग़ में भी इस तरह का जमावड़ा लगा था का सीएए और NRC को लेकर. उस वक्त लॉक डाउन नहीं लगता तो शायद अब तक शाहीन बाग़ चलता ही रहता. क्यूंकि उस भीड़ को जमा करने के लिए ज़बरदस्त फॉरेन फंडिंग की गयी थीं.

किसान आंदोलन में भी पूरे देश के किसानों को छोड़ दिया जाएँ तो सारे प्रॉब्लम पंजाब के किसानों को ही हैं. वहा सरकार कांग्रेस की है और कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत लगाकर किसानों को भड़का दिया हैं जिसके चलते वहा इतनी तादाद में किसान पहुंचे हैं. लेकिन जिस तरह से किसान आंदोलन के नाम पर खालिस्तान का मुद्दा उठाया जा रहा है. भिंडरेवाला के पोस्टर दिख रहे हैं. पाकिस्तान और चायना का पूरा समर्थन हैं.

ये सब इस बात को दर्शाता हैं की किसान बेचारे सिर्फ राजनीत का मोहरा बनकर रह गए हैं.किसानों को लेकर अगर कुछ बोल दो तो लोग कहते हैं किसानों के बारे में कुछ मत बोलना. अगर वो फसल पैदा नहीं करेंगे तो तुम क्या खाओगे. लेकिन सवाल ये भी हैं की उस फसल को अगर कंपनियां नहीं खरीदेंगी तो किसानों की फसल बिकेगी कैसे.

और दुकानदार हमें वो राशन फ्री में तो देता नहीं हैं. तो ऐसा तो नहीं हैं की किसान आंदोलन के नाम पर कुछ भी करो और सब माफ़ हो जाएगा. राकेश टिकैत जो किसानों का नेता बना हुआ हैं. वो खुद कांग्रेस से चुनाव लड़ चुका हैं. बहुत बुरी तरह हारा. करोडो की संपत्ति बना राखी हैं तो किस बात का किसान नेता. अभी कल ही एक वीडियो देखा कुछ किसान ट्रैक्टर को पुलिस वजन पर चढ़ा रहे थें.

ये सब योजना के तहत हो रहा हैं की पुलिस किसानों पर लाठी चार्ज करे और विपक्ष को और भी मौका मिले. जिस कांग्रेस ने अपने शाषणकाल में किसी किसान का भला नहीं किया वो किसानों की आवाज़ बन रहे हैं. कांग्रेस ने कुछ किया ही होता तो इतने किसान उनके सरकार रहते आत्महत्या नहीं करते.

किसान मासूम हैं ये बात हम सभी जानते हैं लेकिन किसानों को मोहरा बनाना कितना सही हैं. हर बार ये आरोप लगता हैं की बीजेपी IT सेल ने ये फेक खबर फैला दी. अब कांग्रेस आईटी सेल ने क्या किया. महेंद्र सिंह धोनी की एक तस्वीर वायरल कर दी जिसमे वो ट्रैक्टर पर खड़े हैं. और बता रहे “पुर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने किया किसान टैक्टर परेड का समर्थन अब अनपढ़ अंधभक्त धोनी को भी हिन्दू विरोधी घोषित कर देंगे #किसानआंदोलन”.

पहली बात तो ये समझ नहीं आती की तुम एक पार्टी के समर्थकों को अंधभक्त कहते हो लेकिन तुम जिस पार्टी को समर्थन दे रहे हो उसने कौन सी डिग्री तुम्हे दी हैं. तुम भी तो उसकी चाटुकारिता ही कर रहे हो.

खैर महेंद्र सिंह धोनी के ये तस्वीर पूरी तरह से फ़र्ज़ी हैं. किसान आंदोलन से इसका कुछ भी लेना देना नहीं हैं.

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: Politics

DON'T MISS