उन्नाव के चंद्रभूषण सिंह को मिला ‘भारतेंदु हरिश्चंद्र साहित्य सम्मान’


बॉलीवुड और लेखन में अपनी पहचान बना चुके उन्नाव, कानपुर के चंद्रभूषण सिंह को ‘भारतेन्दु जयंती’ के अवसर पर सोमवार भारतेन्दु नाटक अकादमी में आयोजित ‘भावां​जलि’ कार्यक्रम में साहित्य सम्मान मिला। समारोह मुख्य अतिथि के रूप में डॉ। नीलकण्ड तिवारी मौजूद रहे। इस अवसर पर भारतेन्दु हरिश्चन्द्र के वंशज दीपेश चन्द्र चौधरी, संस्कृति सचिव शिशिर, बीएनए अध्यक्ष रविशंकर खरे, बीएनए निदेशक रमेशचंद्र गुप्ता आदि मौजूद रहे।

इस अवसर पर भारतेंदु नाट्य अकादमी, संस्कृति मंत्रालय, उतर प्रदेश सरकार द्वारा 14 साहित्यकारों को समान्नित किया गया। भारतीय साहित्य का तीर्थस्थान व साहित्यिक नगरी उन्नाव के युवा लेखक चंद्रभूषण सिंह को नाट्य लेखन के क्षेत्र में साहित्य सम्मान दिया गया। बता दें कि चंद्रभूषण सिंह लेखन एवं नाट्य निर्देशन के क्षेत्र में वर्ष 2008 से कार्य कर रहे हैं। चंद्रभूषण ने कई फिल्मों में अभिनेता, निर्माता के तौर पर भी कार्य किया है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी के एकात्म मानव दर्शन पर ‘नाटक गाथा एक प्रचारक की’ और अटल जी पर ‘मेरी यात्रा अटल यात्रा’ नाटकों का लेखन किया है। उपन्यास लुटियन्स ज़ोन, कलाम पर नाटक ‘निर्माण’, गांधी जी पर नाटक निर्देशन और कई नाटकों का निर्माण और लेखन किया।

चंद्रभूषण सिंह सिर्फ एक लेखक और अभिनेता ही नहीं हैं बल्कि उनकी स्वयं की एक प्रकाशक कम्पनी ‘ब्लैक एंटरटेनमेंट प्रकाशन कंपनी’ भी हैं । जिसमे वह उभरते हुए लेखकों को भी अपनी प्रतिभा निखारने का अवसर दे रहे हैं। इस प्रकाशन के अंतर्गत उन्होंने ‘युवा लेखक मुकेश दुबे की पुस्तक ‘योद्धा: भारत का भाग्यविधाता-कहानी नमो की’ का सफल प्रकाशन भी किया हैं जो प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी पर आधारित एक काल्पनिक पुस्तक हैं।

चंद्रभूषण सिंह का ऐसा मानना हैं की ‘जब आप दूसरों को जीवन में बढ़ने का अवसर देते हैं तब ईश्वर आप के लिए सैकड़ों मार्ग देता हैं।’ एक लेखक और एक सफल, सरल इंसान की यही बात उसे और लोगो से अलग बनती हैं। चंद्रभूषण सिंह की इस कामयाबी पर हम उन्हें बधाई देते हैं।

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: News

DON'T MISS