वेकेशन के लिए नहीं ड्रग्स लेने और डेटॉक्स के लिए मालदीव्स जाते है बॉलीवुड सेलिब्रिटीज


पिछले दो साल से आप लगातार देख रहे होंगे की लगभग हर बॉलीवुड सेलिब्रिटीज वेकेशन के लिए मालदीव्स जा रहा हैं. यहाँ तक की कोरोना के इस घातक दौर में भी बॉलीवुड के एक के बाद एक सेलिब्रिटीज मालदीव्स जा रहे हैं. मालदीव्स बॉलीवुड का नया गोवा बन चुका है. पहले ये सब युरोपियन कन्ट्रीज में जाते थे लेकिन अब मालदीव्स है सबसे प्यारा.

आपको लग रहा होगा की मालदीव्स छोटा सा और बहुत ही खूसबसुरत देश हैं. यकीनन हैं इसमें कोई शक नहीं हैं.लेकिन आपको ये नया पता होगा की बॉलीवुड वहा क्यों जाता हैं.
तो बात ऐसी हैं की एक नशेड़ी इंसान ज़्यादा दिन तक नशे के बिना रह नहीं पाता हैं. अगर आप सिगरेट और गुटखा खाते हैं तो दिन में ना जाने कितने सिगरेट पी जाते होंगे और ना जाने कितने पैकेट गुटखा भी खाते होंगे.

यहाँ तक की लॉक डाउन में कोरोना का ख़तरा था लेकिन उसके बाद भी जब शराब की दुकाने खुली तो आम जनता शराब की दुकानों पर टूट पडी और महज तीन माँ पांच सौ करोड़ की शराब पूरे देश में बीक गयी. ये होता हैं नशा.

तो आपको जानकार ज़रा सी भी हैरानी नहीं होगी की मालदीव्स इस समय हर प्रकार के ड्रग्स और नशे का केंद्र बन गया हैं. वहां कोई रोक टोक नहीं हैं.पूरी दुनिया से खासकर पाकिस्तान, दुबई, थाईलैंड, अमेरिका, बांग्लादेश से मालदीव्स में ड्रग्स भेजे जाते हैं. यहाँ पर ड्रग्स बेचना और खरीदना आम बात हो चुकी हैं. मालदीव्स की टोटल पापुलेशन तीन लाख अस्सी हज़ार के करीब हैं जिसमे से 45% पापुलेशन ड्रग्स का शिकार हो चुकी है.

इसमें से ज़्यादातर की उम्र 15-24 साल के बीच की हैं. जो ड्रग्स लेने से लेकर खरीदने तक का धंदा करते हैं. आपको लग रहा होगा की यहाँ पर इतना टूरिस्म है तो बहुत पैसे होंगे इस देश में. लेकिन सच ये हैं की यहाँ पर मछली मारना और नाव बनाना ही मैं बिजनेस हैं.

यहाँ तक की मालदीव्स के एक्स वाईस प्रेजिडेंट अहमद अदीब ड्रग्स का बहुत बड़ा कारोबारी हैं. फिरौती, जाली नोट का धंदा इस तरह के बिजनेस करता हैं. लेकिन भारत की सहायता से फिलहाल वो जेल में हैं. मालदीव्स की अभी की सरकार ने इंडिया से मदद भी मांगी की मालदीव्स से ड्रग्स को ख़त्म करना हैं. जिसके बाद भारत सरकार ने अपनी कई टीम वहां पर लगा रखी हैं. इसके साथ डेटॉक्स सेंटर भी बना रखे हैं.

लेकिन मालदीव्स से ये सब इतनी जल्दी खत्म नहीं होगा. क्यूंकि यहाँ का बच्चा बच्चा इस तरह के धंदे में शामिल हैं. जो टूरिस्ट लोगो को ड्रग्स लाकर देते हैं. मालदीव्स में 1192 छोटे छोटे आयलैंड हैं जिसमे से 185 पर वहां की जनता रहता हैं बाकी खेती और टूरिज्म के लिए हैं.

अब इतने बड़े आयलैंड पर जहा इतनी सिक्योरिटी नहीं हैं तो वहां पर ड्रग्स लेना बहुत ही आसान काम हैं. शायद यही वजह हैं जो पूरा बॉलीवुड वह पंहुचा रहता हैं. खासकर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद जब एनसीबी ने बॉलीवुड ड्रग्स की पूरी कमर तोड़ दी हैं तो सारे के सारे वही जा रहे हैं. इस बात को मैं दावे से कह सकता हूँ जिस दिन भारत सरकार की नज़र में ये आया समझो बहुत से सितारे पकडे जायेंगे.

What's Your Reaction?

hate hate
1
hate
confused confused
0
confused
fail fail
1
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: News

DON'T MISS