बॉलीवुड की गिरी हरकत, इंडियन आयडल में बुलाकर गीतकार का बनाया मज़ाक


बॉलीवुड ने अपने गिरने की सभी सीमाएं लांघ दी हैं. टीआरपी के चक्कर में ये अपनी सारी मर्यादाएं भूल चुके हैं. कुछ दिन पहले आप देखा को की इंडियन आयडल के मंच पर एक गुजरे ज़माने के गीतकार संतोष आनंद जी को बुलाया गया था. जहा पर नेहा कक्कर ने उन्हें पांच लाख रूपये देने का एलान भी किया था. लेकिन ये सब सिर्फ और सिर्फ इंडियन आयडल की टीआरपी के लिए था.

जिन लोगो को संतोष आनंद जी के बारे में नहीं पता वो लोग जाना लें की इनके लिखे हुए गीत एक प्यार का नगमा हैं को गाने के बाद ही रानू मंडल रातोरात स्टार बन गयी थीं. संतोष आनंद जी ने अपने करियर में एक प्यार का नगमा हैं, अबके बरस तुझे धरती की रानी कर देंगे, ज़िन्दगी की ना टूटे लड़ी, इसे समझो ना रेशम का तार बहना,तेरा साथ है तो ऐसे ना जाने कितनी ही सुपरहिट गाने उन्होंने लिखे हैं.

लेकिन अफ़सोस की बात ये हैं की उनके बेटे बहुत ने जब आत्महत्या कर ली वो पूरी तरह से टूट गयें. फ़िल्मी दुनिया से उन्होंने दुरी बना ली. लेकिन दोस्तों के कहने पर और अपना खर्च चलाने के लिए उन्होंने कवी सम्मेलनों में कविताएं पढ़ना शुरू किया. उन्हें इतने पैसे तो मिल ही जाते थे जिसमे वो अपना गुजरा कर सकते थे.

लेकिन इंडियन आयडल मेकर्स और बॉलीवुड के लोगो ने उनका ज़बरदस्त फ़ायद उठाने की भरपूर कोशिश की. इंडियन आयडल में उन्होंने अपनी कहानी सुनाई जिसके बाद नेहा कक्कर ने पांच लाख रूपये देने के एलान किया. अब इस चीज़ के बात कई फेसबुक पेज और यू टूब चैनल ने इस तरह की हैडिंग दी की. “बॉलीवुड का फेमस राइटर आज भीख मांगकर गुजारा कर रहा हैं.बेटे बहु की मौत के बाद नेहा कक्कर ने दिए पांच लाख रूपये.

लेकिन अब यहाँ सोचने वाली बात ये हैं की क्या इंडियन आयडल के मेकर्स को ये बात पहले नहीं पता थीं की संतोष आनंद जी किस मुसीबत के साथ ज़िंदगी जी रहे हैं. सीधी से बात हैं की ये चीज़ उन्हें पता थीं इसलिए उन लोगो ने एक तरह से शो में बुलाकर एक गीतकार के स्वाभिमान की धज्जिया उड़ा दी. क्या नेहा कक्कर को इतना दिखावा कैमरे के सामने करना ज़रूरी था. क्या नेहा कक्कर उन्हें उनके घर पर जाकर वो पांच लाख रूपये नहीं दे सकती थीं. सब हो सकता था लेकिन इनके दिखाए का ये नाटक कैसे वायरल होता.

इस घटना पर लेखक मनोज मुन्तशिर ने ट्वीट किया और लिखा,”शर्म आती है जब मीडिया ख़बर बेंचने के लिए इतना गिर जाता है! एक लेखक के स्वाभिमान की धज्जियाँ उड़ा के रख दीं. #SantoshAnand जी एक अच्छी, सुखी और सार्थक ज़िंदगी जी रहे हैं. कभी मिलो उनसे, उनकी ख़ुद्दारी का क़द बड़े-बड़ों को बौना करने के लिए काफ़ी है. SHAME.

जब ये बात संतोष आनंद जी तक पहुंची तो उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा,” इंडियन आइडल में मुंबई गया और मुझे वहां लोगों का बहुत प्यार मिला। मैं पहले वहां जा नहीं रहा था लेकिन मेरी बेटी से लोगों ने मुझे यहां बुलाने के लिए कहा। उसके बाद मैं वहां गया। वहां प्यारेलाल जी, उनकी पत्नी सहित कई लोग थे। वह मुझे देखकर भावुक हो गए और मैं भी अपनी भावना रोक नहीं पाया। लक्ष्मीकांत व प्यारेलाल जी के साथ मेरा पारिवारिक रिश्ता है। वहां नेहा कक्कड़ ने मुझे पांच लाख रुपये देने की घोषणा की, मैंने मना कर दिया और कहा कि मैं बेहद स्वाभिमानी व्यक्ति हूं। मैं किसी से नहीं मांगता आप ये बात वीडियो में भी देख सकते हैं। नेहा बहुत प्यारी बच्ची है। उसने कहा कि अपनी पोती समझकर स्वीकार कर लीजिए, मूल से अधिक सूद प्यारा होता है। उसने ऐसा नाता बना लिया कि मैंने कहा मुझे स्वीकार है। मुझे नहीं पता था कि इतना हंगामा हो जाएगा।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है कि आप घोर आर्थिक तंगी में हैं?
कुछ लोग जानूबझकर ऐसा कर रहे हैं। वह कौन हैं मैं नहीं जानता लेकिन अदृश्य लोग हैं। मुझसे देश में और देश के बाहर अनगिनत प्यार करने वाले हैं। बड़े-बड़े लोगों के फोन आए, फोन लगातार बज रहा है। इसके लिए मैं किसी को रिश्वत नहीं देता। कोरोना काल छोड़ दीजिए तो मुझे लोगों ने लगातार कवि सम्मेलनों में बुलाया। लोग मुझे बहुत प्यार करते हैं। अब भी बुला रहे।

 

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: News

DON'T MISS