बॉलीवुड को अब तक बीस हज़ार करोड़ का घाटा लाखो लोग नौकरी से निकाले गए बुक माय शो को भी 200 करोड़ का नुकसान


पूरी दुनिया में बड़ी बड़ी कंपनीया पिछले साल से लेकर अब तक कई लोगो को जॉब से निकाल चुकी हैं. दो दिन पहले खबर आई की मुंबई का एक बड़ा होटल हयात उसने अपने पूरा बिजनेस बंद कर दिया हैं. साल 2020 और साल 2021 एंटरटेनमेंट इंडसट्री के लिए भी बेहद बुरा रहा हैं. खासकर बॉलीवुड के लिए तो कुछ ज़्यादा ही. दो वजह हैं कोरोना और सुशांत सिंह राजपूत केस.

बॉलीवुड में कितने कलाकार काम करते है उसका डेटा नहीं हैं. बडे बड़े कलाकारों को छोड़ दिया जाये तो उन्हें कोई खास प्रॉब्लम नहीं हैं. बस उनकी फिल्मे रिलीज़ नहीं हो रही हैं रिलीज़ हो रही हैं तो चल नहीं रही हैं. जिससे उन्हें घाटा है. लेकिन ऐसी कई न्यूज़ देखने को मिली हैं जहा छोटे छोटे कलाकार पैसे की कमी के चलते छोटा मोटा धंदा कर रहे हैं. को कोई सब्जिया बेच रहा हैं. कोई चाय बेच रहा हैं.

बुक माय शो से पिछले साल 270 लोगो को कमा से निकाला गया. अभी दो दिन पहले फिर से 200 लोगो को जॉब से निकाल दिया गया. भारत में मूवी टिकट को ऑनलाइन बुक करने का रिवाज कुछ ज़्यादा ही बढ़ गया हैं. जिसमे बुक माय शो ऑनलाइन टिकट के मार्किट में 70% की दावेदारी करता था लेकिन पेटीएम के आने के बाद अब राशन 60-40 वाला हो गया हैं.

वैसे ऑनलाइन टिकट बुकिंग के मामले में ये पूरा बिजनेस 4000 करोड़ के करीब का हैं. जिसमे इनसाइडर इन, मूवी टिकट इन, इवेंट फायर, टिकट ग्रीन, मस्ती टिकट, टिकट न्यू, जस्ट टिकट्स, मूवी ई-कार्ड, टिकट बाजार, वेब टिकट्स, न्यू टिकट प्लीज, जैसे कई ऑनलाइन मूवी टिकटिंग ऐप हैं जिसमे कई तो बंद हो चुके हैं और कुछ चल रहे हैं. लेकिन बुक माय शो अभी भी इन सबका राजा हैं.

देश में करीब 9600 स्क्रीन हैं। इसमें सिंगल स्क्रीन करीब 6300 के आसपास हैं, लेकिन ऑनलाइन बुकिंग ज्यादातर मल्टीप्लेक्स में ही होती है। भारत में मल्टीप्लेक्स के 3200 स्क्रीन हैं। इनमें से 70 प्रतिशत चार कंपनियों के हैं। जिसमे PVR के पास 845 स्क्रीन, इनॉक्स के पास 637,सिनेपोलिस 374, और कार्निवाल 470. बाकी कुछ और कंपनियों के पास हैं.

PVR को इस साल 300 करोड़ का नुक्सान हो चुका हैं. बुक माय शो को पिछले साल 134 करोड़ का घाटा हुआ इस साल भी कुछ ऐसा ही हाल हैं. बॉलीवुड को पिछले साल 8000 करोड़ का घाटा हुआ इस साल अब तक 4500 करोड़ का घटा हो चुका हैं. यही हाल रहा तो साल खतम होते होते इस बॉलीवुड को कम से कम 10,000 करोड़ का घाटा हो सकता हैं.

डिज्नी थीम पार्क की बात करे तो पिछले साल उसने 32000 लोगो को जॉब से निकाला. उबर ने 3500, ज़ी ने इस साल 70 लोगो को काम से निकला. यहाँ हाल लगभग हर फील्ड में हैं. कुछ लोगो को दुनिया खत्म हो चुकी हैं कुछ की खत्म होनी बाकी हैं.

बॉलीवुड के मजदूर वर्ग की बात करे तो इसकी संख्या 10 लाख के करीब हैं. ये वो मजदूर हैं जो फ़िल्मी और टीवी दुनिया में सेट डिज़ाइन, कारपेंटर, इलेक्ट्रीशियन, स्पॉटबॉय, मेकअप आर्टिस्ट यानी एक फिल्म और टीवी सीरियल बनाने में जिनकी सबसे अहम भूमिका होती हैं वो मजदूर. जिसमे से पिछले साल लाखो लोग तो ऐसे हैं जो गाँव से लौटे ही नहीं.

गाँव जाकर या तो दुसरो को खेतो में खेती कर रहे हैं. या फिर छोटा मोटा धंदा. जिसमे अंडे बेचना, चाय की दूकान, पान बेचना जैसा काम शामिल हैं.एंटरटेनमेंट इंडसट्री चलती है एक फिल्म से जिसमे समोसे बेचने से लेकर पोस्टर लगाने वाला इंसान, साफ़ सफाई वाला कर्मचारी, सिनेमाघर में टोर्च मारकर आपकी सीट बतानेवाला, वॉचमैन, टिकट विंडो पर बैठा कर्मचारी जैसे कई लोग शामिल हैं.

कई सिनेमाघर एकदम से बंद हो चुके हैं. इन सिनेमाघरों से कई लोग जॉब से हाथ धो चुके हैं. अब सोच लीजिये इतनी प्रॉब्लम हैं फिर भी ज़िंदगी चल रही हैं. कोई उधारी में जी रहा है तो कोई लाचारी में. एंटरटेनमेंट इंडसट्री सरकार से गुहार लगा रही हैं की कुछ करो वरना इस इंडसट्री का बहुत बुरा हाल हो जाएगा.

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: Bollywood Stories

DON'T MISS