डिलीट होने से पहले इस वीडियो को देख लो बॉलीवुड की फिल्म कभी नहीं देखोगे ये हीरो नहीं जीरो हैं


बर्बाद बॉलीवुड की सच्चाई पर हमने कई बात कर ली हैं. लेकिन कुछ बातें ऐसी हैं जिसे जानने के बाद आप बॉलीवुड पर थूकना भी पसंद नहीं करोगे. बॉलीवुड कितना भी इंकार कर लें. लेकिन बॉलीवुड की फिल्मो में पूरा पैसा अंडरवर्ल्ड ही लगाता हैं.

अंडरवर्ल्ड के कई कारोबार हैं जिसमे ड्रग्स, फिरौती, सुपारी लेना, हथियारों को बेचना, ह्यूमन ट्रैफिकिंग, आतंकवाद को बढ़ावा देना, भारत में धार्मिक दंगे करवाना, चुनावों के समय पैसे लगाना और बॉलीवुड की फिल्मो में पैसे लगाना.

एक तरह से हम ये कह सकते हैं की हम इन सभी चीज़ो को बढ़ावा देते हैं लेकिन हमें इसकी कोई जानकारी तक नहीं हैं. सुशांत की मौत के बाद भले ही थोड़ी जागरूकता आयी हो लेकिन इतनी नहीं आयी जो बॉलीवुड पर चोंट पंहुचा सकें. बॉलीवुड आपके इमोशन के साथ खेलता हैं.

आप विरोध करोगे लेकिन उसका तोड़ ये हैं की वो देशभक्ति की फिल्मे बना देगा ताकि आप ना चाहते हुए भी उसे देखने जाओ. किसी फिल्म का नाम नहीं लूंगा लेकिन ऐसी कई फिल्मे हैं जिसमे रंग देशभक्ति का दिखाकर जमकर पैसे कमाए बॉलीवुड ने और उसका कुछ हिंसा जाता हैं अंडरवर्ल्ड के पास जो भारत में वो साड़ी चीज़े करता हैं जिससे भारत में दंगे फैलते रहे लोगो में डर बना रहे.

शाहरुख़ खान की देवदास जब बन रही हैं तब उस वक्त भारत शाह को पकड़ा गया था जो बॉलीवुड की फिल्मो में पैसे लगता था. सलमान खान की चोरी चोरी चुपके चुपके में अंडरवर्ल्ड का पैसा लगा था. जिसके चलते भारत शाह को दो साल की जेल तक हुयी.

अब इस शक्श को देख लीजिये इस बन्दे का नाम हैं अनिल मुसरत जो पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी तहरीके ऐ इंसाफ से जुड़ा हैं. और पार्टी का सारा काम देखता हैं. फंडिंग करवाता हैं. कई बार तो पाकिस्तान के चुनावो में यहाँ के कुछ लोग हवाला के ज़रिये फंडिंग करते हैं.

अनिल मुसरत की इस तस्वीर को देख लो जो पाकिस्तान के आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा के साथ हैं. ये वही बाजवा हैं जिसके साथ नवजोत सिंह सिद्दू ने गले मिलते हुए बड़े प्यार से तस्वीरें खिंचवाई थीं. इसके संबंध ISI के साथ बहुत अच्छे हैं और ISI भारत में क्या क्या करवाता हैं ये बात स्कूल जानेवाले छोटे बच्चे तक को पता हैं.

अनिल मुसरत लंदन में बिजनेस मैन हैं वहा की अमीरो की लिस्ट में इसका स्थान 550 नंबर पर आता हैं. साल 2013 में ब्रिटिश मुस्लिम अवार्ड के तहत इसे बेस्ट बिजनेस मैन का अवार्ड दिया गया.

अब आते हैं बॉलीवुड पर ..अनिल मुसरत को बॉलीवुड में भगवान की तरह माना जाता हैं. सोनम कपूर की शादी में इसे चीफ गेस्ट बनाया गया था. सोच लो भारत में एक से बढ़कर एक बिजनेस मैन हैं लेकिन चीफ गेस्ट एक पाकिस्तानी को बनाया जाता हैं जिसके संबंध ISI के साथ हैं.

सोनम कपूर की शादी की इस तस्वीर को देखो. ये है आपके कोई मिल गया के रितिक रोशन कितने प्यार से हँसते हुए नज़र आ रहे हैं. ये है सोनम कपूर जो हमेशा सरकार की हर नीतिओ के खिलाफ ट्वीट करते रहती हैं.

ये देख लो हॉफ बिरयानी. नेपोटिस्म का माई बाप. ये बन्दा जब सुशांत सिंह राजपूत के साथ तसवीरें निकलवाता है तो चेहरे पर कोई एक्सप्रेशन कोई ख़ुशी नहीं लेकिन अनिल मुसरत के साथ ऐसे हँसते हुए तसवीरें निकलवा रहा मानो वर्ल्ड कप जीत गया हो.

ये देख लो वरुण धवन, ओवरएक्टिंग का राजा. बाप ने गोविंदा की फिल्मो का रीमेक बना बना कर स्टार बना दिया हैं. ये है अनिल कपूर कितने प्यार से तसवीरें निकाल रहे हैं यहाँ तक की अनिल मुसरत के साथ वेकेशन तक एन्जॉय करते हैं. सिर्फ इतना ही नहीं दावूद इब्राहिम के साथ तक अनिल कपूर की तस्वीर हैं.

लेकिन बेटी जो है इनकी सोनम कपूर इस तस्वीर पर सफाई क्या दे रही हैं की मेरे पिता क्रिकेट मैच देखने गए थे तो वहा दावूद भी मौजूद था तो मीडिया में ये तस्वीर आ गयी. मेरे पिता का कोई संबंध नहीं हैं. जनता इतनी बेवक़ूफ़ नहीं जितना तुम समझ रही. वो दावूद हैं कोई समोसे बेचनेवाला नहीं जो अचानक से मैच देखने आया और तस्वीर निकाल ली.

अंडरवर्ल्ड डॉन के करीब पहुंचने के लिए ना जाने कितने सिक्योरिटी से गुजरना पड़ता हैं. खैर जनता समझदार हैं. ये है रणवीर सिंह देख रहे हो इतना प्यार शायद खुद की बीवी से भी नहीं करता हो जितना इस तस्वीर में दिख रहा हैं.

सुशांत सिंह राजपूत यश राज फिल्म्स के साथ कॉन्ट्रैक्ट में थे इसलिए वो संजय लीला भंसाली की बाजीराव मस्तानी, रामलीला में काम नहीं कर सकते थे लेकिन रणवीर सिंह भी उस वक्त यश राज फिल्म्स के साथ कॉन्ट्रैक्ट में थे लेकिन रणवीर को फिल्मे कैसे मिल गयी वो इस तस्वीर में समझ सकते हैं.

ये है शाहरुख़ खान इनकी तस्वीर देख लो वैसे शाहरुख़ के फंस मानते नहीं. लेकिन यही शाहरुख़ खान जिनका दुबई में बिजनेस पार्टनर हैं टोनी अशाई. टोनी अशाई कौन है जो जम्मू एंड कश्मीर लिब्रशन फ्रूट टेरर ग्रुप चलता हैं जिसे ISI मैनेज करती हैं. शाहरुख़ खान कहते हैं वो देशभक्त इंसान हैं उन्हें टोनी अशाई के प्लान के बारे में नहीं पता लेकिन उसके साथ करोडो का बिजनेस करते हैं.पिछले साल जब बात उठी तब शाहरुख़ खान ने इसका जवाब नहीं दिया.

ये है देशभक्त अक्षय कुमार, खिलाड़ियों के खिलाडी भारत में देशभक्ति का खेल खेलते हैं और देशविरोधी लोगो के साथ तसवीरें निकाल कौन सा खेल खेल रहे हैं पता नहीं. ये कौन हैं इंडिया के सबसे बड़े कॉमेडियन जो अपने शो में तो गंदगी परोसते ही हैं साथ में पाकिस्तान जाते हैं पाकिस्तान प्रीमीर लीग को प्रोमोट करने.

कपिल शर्मा कब गए थे पाकिस्तान पुलवामा हमले के दो महीने बाद. इनके लिए देश बाद में आता हैं इनकी कमिटमेंट और पैसे पहले आता हैं. अब सोच लीजिये सिद्दू का पाकिस्तान प्रेम कितना बड़ा हैं. बीजेपी छोड़, कांग्रेस, कांग्रेस छोड़ आम आदमी पार्टी में जाने की तैयारी. इतने रंग तो गिरगिट भी नहीं बदलता हैं.

ये है जोकर रणवीर सिंह की पत्नी जो सुशांत की मौत पर डिप्रेशन का ज्ञान देती हैं लेकिन खुद ड्रग्स और गांजा के बिना एक पल नहीं रह पाती. जब इनकी फिल्म छपाक आ रही थीं तो उसी वक्त JNU में अनिल मुसरत के कहने पर जाकर खड़ी हो गयी हैं. खबर ये भी थीं की एक कॉल पर पहले फ्लाइट पकड़ वहा पहुंची थीं जिसके लिए इन्हे पांच करोड़ रूपये मिले थे. लेकिन इंडिया में ये कई दिलो पर राज करती हैं. कुछ बेवक़ूफ़ इनके प्यार में पागल हैं.

ये JNU के उन टुकड़े टुकड़े गैंग के साथ खड़ी होती हैं जो भारत तेरे टुकड़े होंगे, हिंदुत्व की कबर खुदेगी जैसे नारे लगते हैं.

आपको लग रहा होगा की ये सारे बाते अपने मैन से बना रहा हैं. नहीं भैया. अगर पढ़े लिखे हो तो थोड़ा गूगल सर्च कर लो. मेरी कही हर बात सच निकलेगी. यहाँ तक की भारत के एक्स रॉ ऑफिस ऍन के सूद जी भी वही बात कर रहे हैं. ज़रा ध्यान से सुनना.

ये साड़ी चीज़े हमारी सरकारों को भी पता हैं लेकिन सरकार क्यों कोई एक्शन नहीं लेती इन बॉलीवुड सितारों पर जिनके पाकिस्तान के उन लोगो के साथ कनेक्शन हैं जो इसी के साथ जुड़े हैं. चाहे वो अनिल मुसर्रत हो या टोनी अशाई. अब आप समझ गए होंगे की क्यों स्वरा भास्कर जिसे कोई जानता नहीं था वो ट्विटर पर इतना एक्टिव रहती हैं. टुकड़े टुकड़े गैंग का समर्थन करती हैं.

मान लेते हैं की सरकार एक दो चीज़े गलत कर रही हैं लेकिन इसे सारे ही चीज़ो में प्रॉब्लम हैं. इतने ट्वीट के कितने पैसे मिलते हैं. क्यों इसे इतनी फिल्मे आसानी से मिल जाती हैं. क्यों बॉलीवुड सितारा हर चीज़ का विरोध करते हैं. जो इंडिया के हित में है वो भी.

आप इस बात को सोच भी कैसे सकते हैं की जिन बॉलीवुड फिल्मो की, वेब सीरीज की फंडिंग अंडरवर्ल्ड और पाकिस्तान के बिजनेस मैन करते हो, वहा के आतंकी गतिविधियों में लिप्त लोग करते हो वो हिन्दू विरोधी फिल्मे नहीं बनाएंगे. आमिर खान की PK पर कई बार बात कर चूका हूँ. की भगवान शिव का अपमान, शिवलिंग पर दूध चढ़ाना ढकोसला हैं लेकिन खुद हज यात्रा पर जाता हैं.

क्यों बॉलीवुड की हर फिल्म में जो विलेन होता हैं उसे भगवा डाले, माथे पर लाल टिका लगाए दिखाता हैं. मिर्ज़ापुर वेब सीरीज देख आप बहुत खुश होते हो लेकिन एक परिवार में बहु और ससुर का क्या रिश्ता दिखाता हैं. शराब और मांस खाते दिखाते हैं एक ब्राह्मण परिवार को. जो स्टोरी मिर्ज़ापुर में कभी हुयी नहीं उसे दिखकर एक ऐतिहासिक शहर को बदनाम किया जाता हैं क्यूंकि इस वक्त वहा सरकार किसी और की हैं.

पातळ लोक जैसे वेब सीरीज में ब्रह्मण को मांस खाते दिखाना, कुटिया को सावित्री नाम से बुलाना. गुरु और शिष्य का क्या रिश्ता होता हैं और सेक्रेड गेम्स में क्या दिखाया जाता हैं. रियल लाइफ में आचार्य क्या होता हैं और बॉलीवुड में उसे क्या दिखाया जाता हैं.

कन्हैया कुमार जो खुद को गरीब कहता हैं. चालीस की उम्र हो गयी लेकिन उसकी पढ़ाई पूरी नहीं हुयी. घर में खाने पकाने के लिए कहता हैं आज भी उसकी माँ लड़की का इस्तेमाल करती हैं लेकिन बगल में सिलिंडर पड़ा हैं. ताकि सरकार की उज्ज्वला योजना को बदनाम कर सकें. बिहार में इलेक्शन लड़ने तक का पैसा आता हैं. जिसकी जीत के लिए स्वरा भास्कर और बॉलीवुड से कुछ लोग कैम्पेनिंग के लिए जाते हैं.

कंगना रनोट और सुशांत सिंह राजपूत जैसे लोग जो हिन्दुइस्म को बढ़ावा देते हैं इसलिए दुश्मन बन जाते हैं. जिस इंसान अनिल शर्मा ने ग़दर बनाई थीं उनका लड़का एक फिल्म में आता हैं तब कोई उस फिल्म को प्रमोट नहीं करता क्यूंकि उसमे हिन्दू धर्म को लेकर कई अच्छी बातें थीं.

सलमान खान अपनी फिल्म से अरिजीत सिंह को निकाल देते हैं लेकिन एक पाकिस्तानी सिंगर रहत फ़तेह अली खान को मौका देते हैं. जो पाकिस्तानी कलाकार अपने देश के खिलाफ कभी नहीं बोलते क्यूंकि उन्हें अपने देश से प्रेम हैं. लेकिन हमारे यहाँ पुलवामा या कोई अटकी घटना हो जाएं तो बॉलीवुड का कोई कलाकार पाकिस्तान पर एक शब्द नहीं बोल पाटा. या तो इनकी फटती हैं या फिर फिर इनका पाकिस्तान प्रेम हैं.

कारन जोहर फिल्म बनाते है ड्राइव लेकिन कहते हैं उन्हें स्क्रीन नहीं मिल रही और उसे OTT पर रिलीज़ कर देते हैं ताकि ये बता सकें की सुशांत इतने बड़े एक्टर नहीं हैं उनके नाम पर स्क्रीन नहीं मिल रही. ये बात जब कंगना ने कही थीं सभी का दिमाग हिल गया था. की जिस सुशांत ने धोनी फिल्म में करोडो रूपये कमा कर दिए उसके लिए ऐसी सोच.

खैर बॉलीवुड से जो नफरत हैं उसे बरक़रार रखना हैं और ये काम वही कर सकता हैं जिसे अपने देश से प्यार हैं. वरना बॉलीवुड सितारों के प्यार में जो पागल हैं. फैन बने घूम रहे हैं उन्हें उनकी औकात नहीं पता की एक सेल्फी लेने जाते हैं तो मोबाइल तोड़ दिया जाता हैं. बॉलीवुड में अब वो बात नहीं रही अब वो बर्बादी के काफी हद तक पहुंच गया हैं.

मतलब आज खुद से इतनी नफरत होती हैं की हम किसे अपना हीरो मान रहे थे ये तो उस लायक है ही नहीं. असली हीरो तो सरहद पर खड़ा हो सिपाही हैं जो बिना डरे बीना थके हमारी सेवा में खड़ा रहता हैं. कब कौन सी गोली का शिकार बन जाये उसे भी नहीं पता. इसलिए असली हीरो को पहचानो. बॉलीवुड की फिल्मो में पैसे डालने से बेहतर हैं किसी गरीब को दो वक्त की रोटी खिला दो बहुत दुवाएं देगा.

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: Bollywood Stories

DON'T MISS