5 ऐसी बातें जिसे जानने के बाद आप ये फिल्म देखने के लिए मज़बूर हो जायेंगे |


दी कलर ऑफ़ डार्कनेस” कोई साधारण फिल्म नहीं है,ये उन फिल्मों में शामिल होने को तैयार है जिसे कुछ खास तरह के फिल्म देखने की इच्छा रखनेवाले दर्शक और फ़िल्मी क्रिटिक्स बेसब्री से इंतज़ार करते हैं | बता दें की “दी कलर ऑफ़ डार्कनेस”  ऑस्ट्रेलिया और भारत के रिश्तों पर आधारित फिल्म है। ये उस वक्त की सच्ची घटना है, जिस समय ऑस्ट्रलिया में रहनेवाले भारतीय लोगो पर हमले हुआ करते थें| जिसके चलते भारत और ऑस्ट्रेलिया के रिश्तों में भी दरार आ गयी थीं |

इस फिल्म को “गिरीश मकवाना” ने अपने रचनात्मक तरीके से बनाया हैं जिसके हर एक पहलु पर बड़े ही बेहतरीन डायलॉग्स और गीत के ज़रिये दिखाने का प्रयास किया हैं | फिल्म लिखने के साथ गिरीश मकवाना ने इस फिल्म को संगीत देने का भी श्रेय प्राप्त  किया हैं |

चलिए आपको इस फिल्म की 5 ऐसी बातें बताते हैं जिसे जानने के बाद आप ना चाहते हुए भी अपने कदम सिनेमाघरों तक ले जायेंगे |

 

इस विषय पर कोई बात नहीं करना चाहता : जातिभेद, नस्लीय टिपण्णी, प्रांतवाद ये सिर्फ भारत की ही समस्या नहीं है बल्कि पूरा विश्व इस समस्या से जूझ रहा हैं, आये दिन दुनिया के किसी न किसी कोने में इस विषय को लेकर मारपीट और ज़िन्दगी ख़तम होने के बात दिख जाती हैं| सब कुछ जानते और समझते हुए भी इस विषय पर कोई बात नहीं करना चाहता हैं, लेकिन इस फिल्म में इन मुद्दों पर खुलकर बात की गयी हैं |

Picture 1 of 5

ये सिर्फ एक फिल्म नहीं है , “दी कलर ऑफ़ डार्कनेस” समाज को वो आइना है जिसे देखने, सुनने और समझने की ताकत हर किसी में नहीं हैं | हम अक्सर वो ही फिल्में देखते हैं जिसमे बड़े कलाकर हो चाहे उसकी कहानी कुछ भी हो लेकिन हम ऐसी फिल्म को नहीं देखते हैं जो समाज का एक खूबसूरत हिस्सा है जिस पर बात करने की बहुत ही ज़ायदा ज़रुरत हैं |

आज के इस दौर में भी अगर हम इसी तरह से रंगभेद, जातिवाद, समाजवाद और प्रांतवाद जैसी बिन मतलब की समस्यायों में उलझे रहेंगे तो वो दिन दूर नहीं जब हमारे हाथों में सिर्फ तलवारें होंगी और सिर्फ खून की नदियाँ ही हर तरफ दिखेंगी | इन सब से ना हमारा पेट भरेगा और ना ही तरक्की होगी | ये समस्या पूरे दुनिया की है और इसका हल निकलना भी ज़रूरी हैं |

“दी कलर ऑफ़ डार्कनेस” ऑस्ट्रलिया और न्यूज़ीलैंड में १९ मई,२०१७ को और भारत में २५ मई,२०१७ को रिलीज़ होगी|फिल्म के मुख्य कलाकार विद्या माकन और साहिल आहूजा हैं | जिसके प्रोड्यूसर ऑस्ट्रेलिया के लारेन ग्रीक और व डॉयरेक्टर  गुजरात, नडियाड के ग्रीस मकवाना है।  

भारत में इस फिल्म की मार्केटिंग ब्लैक एंटरटेनमेंट के अंतर्गत “चंद्रभूषण सिंह “ ने ली हैं| अगर आप वाकई एक सच्चे और समझदार दर्शक है तो इस फिल्म को देखने ज़रूर जायेंगे|
ट्रेलर यहाँ देखें :

Subscribe : Boom Indya
Do not forget to share and let us know your views please write in the comments section below.

Like Us On Facebook : BoomIndya  | Follow Boom Indya On Instagram

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: Entertainment

DON'T MISS