बॉलीवुड लोकगीत चुराकर ना पैसे देता ना क्रेडिट


जैसा की पता हैं की बॉलीवुड की अपनी कोई ओरिजिनल क्रिएटिविटी नहीं हैं. रीमेक, चोरी के गाने, चोरी के पोस्टर, मराठी फिल्म, साउथ फिल्म, हॉलीवुड, यही सब से जोड़ तोड़ कर पूरी फिल्म बना देता हैं.

अब देखो म्यूजिक कॉपीराइट वाला सीन होता हैं वरना यही पर ओरिजिनल गाने के साथ कई चीज़े आपको दिखा देता. खैर आप समझदार हैं थोड़ा बहुत सर्च कर लेते हैं. बॉलीवुड सिर्फ फिल्म ही नहीं बल्कि लोक गीतों को भी बड़ी ही आसानी से चुरा लेता हैं जिसके लिए ना वो क्रेडिट देता हैं और ना किसी को पैसे.

बादशाह का वो गाना तो आपने देखा ही होगा गेंदा फूल वाला. गाना बहुत वायरल हुआ तो पता चला की इस गाने को 85-वर्षीय बंगाली गीतकार रतन कहार ने लिखा हैं जो पश्चिम बंगाल के बीरभूम के रहने वाले हैं.

रतन का बंगाली गीत “बोरो लॉकर बेटी लो” यही से वो गाना चुरा लिया गया और अपने गाने में थोड़ा बहुत इंग्लिश मिक्स कर दिया. अब ये गाना बनाकर बादशाह ने करोडो रुपया छाप लिया लेकिन रतन कहर को क्या मिला कुछ नहीं. बहुत बवाल हुआ तो बात सामने आयी की पांच लाख दिया हैं वो भी मिला की नहीं कौन जानता हैं.

यहाँ तक की बादशाह ने जिस बीट्स का इस्तेमाल किया हैं वो भी धनुष की मारी २. से चुराया हैं.

लोक गीत रचनाओं को चुराने वाले बॉलीवुड संगीतकारों का इतिहास है:

दिल्ली -6 का गीत “गेंदा फूल” वास्तव में छत्तीसगढ़ी लोक गीत है जिसे “ददरिया” कहा जाता है। फिल्म ख़ूबसूरत में गीत “इंजन की सीटी” एक राजस्थानी लोक गीत से प्रेरित है।

फुकरे का प्रशंसित गीत “अंबरसरिया” पंजाबी शबद (पवित्र गीत) “रक्खी चरना दे कोल” से प्रेरित है। यहां तक कि गाने के बोल भी एक अन्य पंजाबी गाने से लिए गए हैं।

हम दिल दे चुके सनम का प्रसिद्ध गीत “निम्बूड़ा” एक राजस्थानी लोक गीत है जिसे मांगियार समुदाय की महिलाओं द्वारा गाया गया है।

मिशन कश्मीर का गीत “बुमरो” एक पारंपरिक कश्मीरी लोक गीत है जो पहली बार कश्मीरी ओपेरा बॉम्बुर ता येम्बज़ल के लिए लिखा गया था।

ये तो सिर्फ कुछ लोकगीत हैं. ऐसे गाने हज़ारो की संख्या में हैं जो चुराकर बना लिए जाते हैं और उसका क्रेडिट तक नहीं दिया जाता हैं.


Like it? Share with your friends!

122

You may also like

More From: News

DON'T MISS