बीबीसी रेडियो पर मोदी की माँ को गालीया दी गयी | किसान आंदोलन का बहाना


यकीन मनो जब आप कोई अच्छा काम कर रहे हो तो उस बात से कई लोगो को बहुत ही ज़्यादा प्रॉब्लम होने लगती हैं. कुछ ऐसी ही बात मोदी जी के साथ भी हैं. एक अकेले मोदी ने ना जाने कितनी ही राजनीतिको पार्टियों का अस्तित्व्व खत्म कर दिया हैं. राम मंदिर, 370, ट्रिपल तलाक, कृषि कानून इन बातों का कितने ही लोगो के दिल में भड़ास हैं इस बात को आप समझ सकते हैं.

प्रॉब्लम मोदी से नहीं हैं. प्रॉब्लम है मोदी की बढ़ती ही ताकत का, पॉपुअलरिटी का. कोरोना कीवैक्सीन उन देशों तक भी भिजवा दी जिन देशों का नाम तक किसी को याद नहीं रहता. यहाँ तक की वो देश दुनिया के नक़्शे पर है ये बात भी किसी को पता नहीं. अमेरिका जैसा देश जो दूसरों को पैसे देता था. अजा उसी अमेरिका को भारत ने पंद्रह लाख करोड़ रूपये का लोन दिया हैं.

जो राजनीतिक पार्टियां कभी इतना पैसो का घोटाला कर जाती थीं आज वही भारत विश्वशक्ति बन रहा हैं. आप पेट्रोल के दाम का रोना मत रोना भाई. ये पूरी दुनिया की प्रॉब्लम हैं. पूरा देश एक साल से जब बंद ही पड़ा था तो उसकी भरपाई कहीं ना कहीं तो करनी ही होगी. इसके बावजूद भारत पूरी दुनिया की मदद कर रहा हैं वो भी उन देशों की जो ताकत में भारत से कई गुना शक्तिशाली हैं.

बस इन्ही भड़ास को लेकर अब मोदी का कुछ बिगाड़ तो सकते नहीं. तो ये कमज़ोर कायर किस्म के लोग एक सौ साल की बूढ़ी औरत यानी मोदी जी की माँ को गालीया दे रहे हैं.लेकिन गालीया तुम मोदी की माँ को नहीं बल्कि हर औरत को दे रहे हो यहाँ तक की अपनी माँ को भी. तुम्हरी माँ भी सोचती होगी की कैसे बच्चे मैंने पैदा किया हैं जो एक औरत को गालीया दे रहे हैं.

सबसे बड़ी बात बीबीसी बहरत विरोधी हैं और इस तरह का इंटरव्यू दिखाकर जहां मोदी की माँ को गाली दी जा रही हैं उस पर कड़े से कडा प्रतिबन्ध लगना चाहिए.

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: Politics

DON'T MISS