पैसे वाले और बॉलीवुड इसलिए इंडिया छोड़ रहे | केआरके का गलत विश्लेषण | सिर्फ मोदी पे निशाना


एक रिपोर्ट आयी जिसमे ये कहा गया की पिछले पांच साल में तकरीबन आठ लाख लोगो ने इंडियन की नागरिकता छोड़कर विदेशी नागरिकता ले रखी हैं. जिस पर केआरके का कहना हैं की ये सब मोदी जी की गलत नीतियों के कारण हैं. केआरके का ये कहना था की आने वाले समय में इंडिया में कुछ ऐसा हो सकता हैं जिसके चलते ये लोग इंडिया छोड़कर विदेशी नागरिकता ले रहे हैं.

तो केआरके ने जो भी रिव्यु किया सब गलत हैं. केआरके वैसे भी मोदी विरोधी हैं. ज़रूरी नहीं उसके सारे रिव्यु सही हो. असली रीज़न क्या है देश छोड़ने का वो आप सुन लो. अब कोई गरीब और मिडिल क्लास तो अपना देश छोड़कर विदेश बसने नहीं जाएगा. उसे यहाँ कमाना हैं और यही मर जाना हैं.

पैसे वाले और बॉलीवुड के लोग ये मनी माइंडेड होते हैं. अरबों रूपये कमा लेंगे फिर भी प्यास काम नहीं होती हैं. वर्ल्ड पासपोर्ट इंडेक्स के अनुसार भारत का रैंक 69. है. अन्य देशों के साथ तुलना करने पर – ऑस्ट्रेलिया का स्थान तीसरा, यूएसए का 5वां, सिंगापुर का 6वां और कनाडा का 7वां स्थान है। पहले नंबर पर यूएई और दूसरे नंबर पर न्यूजीलैंड है।

पासपोर्ट इंडेक्स रैंकिंग जितनी ऊंची होगी, उन्हें कई देशों में वीजा-मुक्त यात्रा करने की बेहतर सुविधा मिलेगी। इमिग्रेशन के दौरान bureaucratic delays में फायदा. खासकर व्यपारी और बॉलीवुड वालो के लिए फायदेमंद.

अब ये सिर्फ इंडिया की बात नहीं हैं. बल्कि अमेरिका, रूस, ऑस्ट्रेलिया ऐसे बहुत से देश हैं जो इंडिया की नागरिकता ले रहे हैं क्यूंकि उनका पैसे से माया मोह हैट चुका हूँ. वो यहाँ कार इस्कॉन टेम्पल, आश्रम और समाज सेवा का काम कर रहे है.

अब अक्षय कुमार ने कनाडा की नागरिकता साल 2011. में ली थीं तब तो बीजेपी की सरकार नहीं थीं. और क्या अक्षय कुमार ने बॉलीवुड की फिल्मो में काम करना छोड़ दिया. आलिया भट्ट के पास ब्रिटिश नागरिकता हैं. नरगिस के पास अमेरिका की नागरिकता हैं. जैकलीन के पास श्रीलंका की नागरिकता हैं लेकिन यहाँ काम भी कर रही हैं और कांड भी कर रही हैं.

कटरीना कैफ के ब्रिटिश नागरिकता हैं लेकिन शादी इंडिया में काम इंडिया में बच्चे पैदा होंगे इंडिया में. सनी लीओन कनाडा की नागरिकता पहले वहा काम किया अब यहाँ कर रही. नोरा फ़तेहि कनाडा की नागरिकता.

राज कुंद्रा ब्रिटिश नागरिकता और एक से बढ़कर एक कांड किये है भाई सब ने. जबकि शिल्पा शेट्टी की नागरिकता क्या हैं इंडियन.

सबसे बड़ी बात जो केआरके इतनी बड़ी बड़ी बातें कर रहा हैं वो खुद पिछले साथ साल से इंडिया में नहीं हैं. UAE. में बैठा हैं. क्यों क्यूंकि उसका फायदा वही हैं. और बहुत से लोग इसलिए भी इंडिया छोड़ रहे हैं क्यूंकि अब यहाँ भ्रस्टाचार करने का मौका नहीं मिल रहा हैं. जब मिलेगा तो फिर दौड़कर इंडिया चले आएंगे.

अब देखिये इसमें किसी सरकार का कोई दोष नहीं होता. ना कांग्रेस का और ना बीजेपी का. लोग देश पहले भी छोड़कर जा रहे थे आज भी जा रहे हैं और आगे भी जाते रहेंगे. हम तो बॉलीवुड की फिल्मो में पहले से देखते चले आ रहे हैं की आधा पंजाब कनाडा जाना चाहता हैं.

हमारे देश के कई ऐसे मिडिल क्लास और गरीब वर्ग के लोग हैं जो अरब देशों में जाकर काम कर रहे पैसे कमा रहे. अब केआरके ने तो वो एनालिसिस कर दिया हैं मानो मोदी सरकार में देश का हाल वैसा ही होगा जैसा अफगानिस्तान में कुछ दिन पहले हुआ था. सीरिया और बाकी मुस्लिम देश का हुआ.

ये वही लोग हैं को तुर्की को सबसे शक्तिशाली मुस्लिम देश बनाने में लगे थे लेकिन आज वहा की हालत पाकिस्तान जैसी हो गयी हैं. सऊदी अरब जबकि अपने देश में हिन्दू मंदिर बना रहा हैं. और जितने कड़े नियम थे उन सब में ढील दे रहा हैं. क्यों दे रहा हैं पता हैं क्यूंकि कोरोना लॉक डाउन के समय पता चल गया की कुछ भी हो सकता हैं.

अरब देश पेट्रोल बेचकर अमीर हुए हैं. अब आनेवाले समय में पेट्रोल के की विकल्प सामने आ रहे हैं तो अभी से अरब कन्ट्रीज दूसरे देशो के साथ मिलकर नहीं चला तो उसके यहाँ भी हाल अफगानिस्तान जैसा होगा. सऊदी अरब और इज़रायल एक साथ मिलाकर काम कर रहे हैं. क्या कभी ने सोचा था.

लोग और देश अपना फायदा देखते हैं. जिसे जहा फायदा मिलेगा वहा जाएगा. बस मोदी को कोसने के लिए केआरके जैसे लोगो को एक बहाना चाहिए.


Like it? Share with your friends!

230

You may also like

More From: Read

DON'T MISS