नशेड़ी को नेशनल हीरो बना दिया बिकाऊ मीडिया ने क्रिकेट जैसी लाइव कमेंटरी जेल से घर तक


मन्नत जब पूरी होती हैं तब मन्नत जन्नत में बदल जाता हैं. जलसा होता हैं. नाच गाना होता हैं. एक चुटकी सिंदूर की कीमत तो चुन्नी बाबू को नहीं पता लेकिन एक चुटकी ड्रग्स की कीमत हर नशेड़ी को पता होती हैं.

जितना नाम पचीस दिनों में ख़राब हुआ था उससे कहीं ज़्यादा नाम शाहरुख़ ने पैसे देकर मीडिया वालो खरीद लिया. इतने पैसे दे दिए मानो आर्यन भारत सरकार की तरफ से संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान के खिलाफ एक दुमदार स्पीच देकर आया हो.

मानो आर्यन ने पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान पर जाकर एयर स्ट्राइक की हो. ज़िंदा बच आया इसलिए अब उसे राष्ट्रपति पदक से सम्मानित किया जाएगा. पद्मश्री, पद्मभूषण, पद्म विभूषण, परमवीर चक्र सब अवार्ड एक साथ ही दिए जायेंगे.

क्यूंकि आर्यन ने ड्रग माफियाओं की कमर तोड़कर रख दी हैं. जो काम समीर वानखेड़े, सीबीआई, पुलिस, ED, ये लोग नहीं कर सकें वो काम अकेले आर्यन ने कर दिखाया हैं. क्यूंकि बेटा किंग खान का हैं.

जितनी सिक्योरिटी प्रधानमंत्री मोदी जी को ना दी जाती हो उससे कहीं अधीक तो शाहरुख़ के नशेड़ी लौंडे को दी गयी की वो घर पहुंच सकें वरना उसके बेवक़ूफ़ फैंस और मीडिया वाले उसके कपड़े ना फाड़ डाले.

हिन्दुस्तान को आज़ादी दिला ने वाला आर्यन खान जेल से रिहा हुआ
जेल के बाहर भारी संख्या मे मीडिया वाले और समर्थक मौजूद
आर्यन खान अमर रहे और चरस गांजा फुकता रहे के नारे भी लगे

अब मीडिया वालो की गैर जिम्मेदाराना कमेंटरी देखिये जिसने एक नशेड़ी लड़के के खिलाफ न्यूज़ बनाने की जगह उसे सुपरस्टार बना दिया.

पंकज कब तक आर्यन खान जेल से निकल जायेंगे. जल्दी निकालो हमने कमरा फोकस पर रखा हैं. हमारे पिछवाड़े को चींटियों ने काट काटकर अफगानिस्तान की पहाड़ियों में तब्दील कर दिया हैं.

तभी मीडिया के चैनल से आकाशवाणी होती हैं. ये देखिये आर्यन खान. एक रईस बाप का बेटा जिसे फंसाया गया. एक मासूम बच्चा जिसने आज तक लोली पॉप तक नहीं चूसा था उसे समीर वानखेड़े ने ड्रग्स खिला दिया.

लेकिन आर्यन ज़रा भी हताश निराश परेशान नहीं दिख रहे. जेल से निकलते ही आर्यन ने किसी हिंदी फिल्म की तरह हवलदार से कहा “माचिस हैं क्या ? हवलदार ने कहा जी हुज़ूर.

माचिस की तीली को आर्यन ने अपने कान पर रगड़ा और अपने पिछवाड़े पर रखकर फायर किया.

मनीष मै आपको बता नहीं सकता वो ऐतिहासिक पल. उस धमाके के बाद आर्यन के पिछवाड़े से जो पाद निकली. उसमे अभी भी ड्रग्स का नशा हैं. हम एकदम मदहोश हो गए हैं. हमारे ख़ुशी का कोई ठिकाना नहीं हैं. क्यूंकि हमारे जेल सूत्रों ने बताया था की आर्यन जब से जेल गए हैं तब से उन्होंने टट्टी नहीं की थी.

सोचिये 23. साल की उम्र में इतनी बढ़िया पाद मारी है जितना नीरज चोपड़ा ने ओलम्पिक में भाला तक नहीं फेंका था. आज हमारा जीवन धन्य हो गया. देश के चौथे स्तम्भ की पत्रकारिता की जो कस्मे हमने खाई थीं आज वो चापलूसी सफल हो गयी.

आर्यन अपनी गाडी में बैठ चुके हैं. गाडी सफ़ेद रंग की हैं. और सबसे बड़ी बात ये हैं पंकज की गाडी ..गाडी जैसी ही दिख रही हैं सफ़ेद रंग की गाडी हैं. और ये चल भी रही हैं क्यूंकि इसमें आर्यन के विकास के पहिया लगा हुआ हैं जो लगातार अपनी मंजिल की तरफ बढ़ रहा हैं लेकिन ना जाने हमें क्यों ये विजयरथ की तरह दिख रहा हैं. पचीस दिनों बाद ज़िंदगी की जंग आर्थर रोड जेल से जीतकर अपने राजमहल मन्नत जा रहे हैं आर्यन.

हम पीछा नहीं छोड़ेंगे क्यूंकि जितने पैसे हमें मिले हैं उसमे हमें अभी और भी चापलूसी करनी हैं. वरना न्यूज़ चैनल का मालिक हमारे पिछवाड़े में बांस कर देगा. हमको कुत्ता बना देगा जो की हम हैं लेकिन हमारी क्वालिटी अच्छे कुत्तों वाली हैं. हम सड़कछाप कुत्ते नहीं हैं जो सिर्फ भौंकना जानते है. हम वो है जिसे मालिक को चाटने की शिक्षा दी जाती हैं.

आर्यन मन्नत पहुंच चुके हैं. बाहर अभी अभी पैदा हुए जन्मजात टिक टोकिये फैन अब यहाँ अपने करतब दिखाएंगे. कोई अपने कपडे फाड़ देगा कोई अपना सर फोड़ देगा. कोई वही खड़े खड़े हग देगा ताकि शाहरुख़ की नज़रो में वो दिख जाये और शाहरुख़ उसे अपनी अगली फिल्म में साइन कर लें.

गाडी अब अंदर जा चुकी हैं लेकिन हमको बोला गया तुम लोग बाहर ही रहो. हम मन्नत की बालकनी में आकर माहौल बनाते हैं. दो घंटे हो आर्यन और शाहरुख़ अभी तक बालकनी में नहीं आये.

और इसी बीच छोटे किंग खान अब्राम मन्नत की बालकनी में आकर तमाम चाहनेवालो को हाथ दिखा रहे हैं. छोटे भाई और पिता शाहरुख़ दोनों का फ़र्ज़ निभा रहे हैं. ये होते है संस्कार. ये होती हैं फॅमिली.

हमें अंदर जाने को तो नहीं मिला लेकिन सूत्रों से पता चला हैं. शाहरुख़ की नौकरानी जिसका नाम हैं कांताबाई डिसूज़ा खान उनका कहना हैं की गौरी खान ने आर्यन के माथे पर तिलक लगाया. और शाहरुख़ ने अपने स्टायल में बाहे फैला आर्यन को लिपट लिया.

खबर ये भी मिल रही हैं की मीडिया वालो को थोड़ी देर में मैरीगोल्ड वाली बिस्किट खिलाई जाएगी लेकिन जिस हिसाब से हमें अपनी वफ़ादारी साबित की हैं हम पेडिग्री से नीचे नहीं मानेंगे.

इसी बीच रिपोर्टर को चैनल से बोला जाता हैं. पंकज तुम वही बने रहो. क्यूंकि जितने पैसे हमें मिले थे उतना काम हो गया हैं. अब हम चलते हैं मलाइका अरोरा के घर के बाहर जहा वो अपने कुत्तों को घूमने निकली हैं. अपने दर्शको को बता दें ब्रेकिंग न्यूज़. मलाइका ने हॉट कपड़ो में इतना कहर ढाया की मुंबई का तापमान पचास डिग्री पार हो गया हैं. यहाँ ऐसी में बैठे बैठे हमारा पिछवाड़ा जल गया.

वाह रे मीडिया. तुम्हे एक नहीं कई बार दंडवत प्रणाम करने का दिल चाहता था लेकिन क्या करे हम बिकाऊ नहीं हैं.


Like it? Share with your friends!

218

You may also like

More From: Bollywood Stories

DON'T MISS