तूफ़ान फिल्म ने मेरी ज़िंदगी में आये तूफ़ान को बदल दिया – रिया ने Farhan Akhtar का कर्ज चुका दिया


रिया चक्रबोर्ती जैसा कोई इंसान है क्या इस दुनिया में. जो किसी से क़र्ज़ ले और वापस ना लौटाएं. वो अलग बात हैं की पैसे लिए है उस पर मजे किये हैं तो वो नहीं लौटना. क्यूंकि वो अगर लौटा दिए तो अपना केस कैसे लड़ेगी. लाखो की फीस कैसे देगी. तो रिया ने क़र्ज़ अदा किया हैं फरहान अख्तर का.

वो फरहान अख्तर और उसकी प्रेमिका शिबानी दांडेकर जिसने सीबीआई ऑफिस जाने के लिए रिया को अपनी गाडी दी थीं. अपने घर पर कुछ दिन रखा था. यानी आखर फॅमिली ने हर संभव मदद की थीं रिया की उस मुश्किल दौर में. और छुप छुपकर तो पूरे बॉलीवुड ने रिया की मदद की हैं क्यूंकि उनकी नज़रो में रिया बेकसूर हैं.

बात ऐसी हैं की फरहान की फिल्म आई हैं तूफ़ान. वो तूफ़ान जिससे एक पत्ता तक नहीं हिल सका. इससे ज़्यादा तूफ़ान तो मैं फूंक मारकर ला सकता हूँ. मेरे ख्याल से फरहान अख्तर को मूली के पराठे खिलाये गए होते तो उस तूफ़ान से काफी नुक्सान हो जाता. शायद उनकी गर्लफ्रेंड छोड़कर भाग जाती.

तो रिया ने फरहान और शिबानी की मदद का क़र्ज़ अदा किया हैं इंस्टाग्राम पर एक स्टोरी डालकर जहा लिखा “तोडून टाक” जो इस फिल्म का डायलॉग भी हैं. और जिन्हे नहीं पता तोडून टाक का मतलब क्या हैं तो इसका मतलब होता हैं “ब्रेक आईटी डाउन’ तोड़ दो फोड़ दो.

हो सकता है रिया को कुछ याद भी आ गया हो की एक महीने जेल में बंद थीं तब वहा किन किन तरीके से उन्हें तोडा गया होगा. इस फिल्म को रिया इंस्पिरेशनल फिल्म बता रही हैं जबकि ये फिल्म पचीस तीस फिल्मो को जोड़ तोड़कर बनाया गया हैं. तूफ़ान नाम रख लेने से फिम में तूफ़ान नहीं आता.

इस फिल्म की तो बुराई करने का भी मन नहीं कर रहा. सलमान की राधे में एटलीस्ट बुराई करने का मौका तो दिया. जैसी रिया वैसा फरहान वैसी उसकी बहन वैसी उसकी फॅमिली. कुछ दिन पहले शबाना आज़मी दारू पीने के लिए परेशान हो गयी थीं. ऊपर से किसी ने पैसे लेने के बाद दारु भी नहीं दी और बड़ा वाला काट दिया.

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win

You may also like

More From: News

DON'T MISS