डरे हुए मुस्लिम समुदाय को समझायेंगे सलमान खान सरकार ने दिया काम


कोरोना वैक्सीन जब बनी तब हमारे देश के अपोजिशन ने ये सवाल उठाया की ये बीजेपी की वैक्सीन हैं हम इसे नहीं लगाएंगे. कई लोगो ने ये अफवाह उड़ाया की ये वैक्सीन सिर्फ मुस्लिम समुदाय को नपुसंक बनाने के लिए बनाइ गयी हैं ताकि वो ज़्यादा बच्चे पैदा ना कर सकें. फिर किसी ने कहा की इसमें सुवर की चर्बी का इस्तेमाल किया जा रहा हैं. यानी तरह तरह का भ्रम फैलाकर अपोजिशन आम जनता को बेवक़ूफ़ बनाया और सबसे पहले खुद ही वैक्सीन लेने पहुंचे.

वैक्सीन से लोगो के बीच में डर ख़त्म हो इसलिए पीएम मोदी ने वैक्सीन लगवाकर उस तस्वीर को मीडिया में शेयर किया ताकि लोगो को डर निकल जाये लेकिन राजनीती उस पर भी हुयी. खैर ये राजनीती मुस्लिम धर्म के लोगो पर बहुत भरी पडी. आज भी कई ऐसे इलाके जहा पर मुस्लिम समुदाय कोरोना वैक्सीन लेने में डर रहा हैं.

इसलिए महाराष्ट्र सरकार ने फैसला किया हैं की वो सलमान खान और मौलानाओ की मदद से मुस्लिम समुदाय को जागरूक करेंगे ताकि वो कोरोना वैक्सीन ले सके. वैसे ये पहली बार नहीं हैं जब मुस्लिम समुदाय किसी वैक्सीन को लेकर डर रहा हैं इससे पहले जब पोलियो के टीके लगते थे तब भी यही हाल था. हालांकि इसमें गलती मुस्लिम समुदाय की नहीं हैं. गलती उन पोलिटिकल पार्टी को होती अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए देश की जनता को गुमराह करते हैं.

वैसे सलमान खान कोरोना वैक्सीन के लिए जागरूक कर रहे हैं तो लगे हाथ बॉलीवुड वालो को भी थोड़ा जारूक कर दें की ड्रग्स नहीं लेना चाहिए. नशा नहीं करना चाहिए. लेकिन क्या करे सलमान खुद पान मसाला का विज्ञापन करते हैं. सुट्टा मारते हुए उनकी कई तसवीरें सोशल मीडिया पर वायरल हैं. शराब पीकर कई बार लोगो से मारपीट कर चुके हैं.

अब देखो जो न्यूज़ हैं सो न्यूज़ है लेकिन कुछ लोग आएंगे कमेंट में मुझे गाली देने की भाई तुम मुस्लिम लोगो से नफरत क्यों करते हो. प्रॉब्लम ये हैं की लोग न्यूज़ देखते हैं बस समझते नहीं हैं. यही वजह हैं सलमान खान जैसे लोगो को जागरूक करने का काम दिया जाता हैं.


Like it? Share with your friends!

168

You may also like

More From: News

DON'T MISS