जो बाप का ना हुआ वो किसी का क्या होगा | करण जोहर ने जब फ्लॉप फिल्म के चलते दोस्तों से कहा ये मेरा बाप नहीं हैं


सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद करण जोहर तब से लेकर अब तक लगातार निशाने पर बने हैं. नेपोटिस्म से लेकर फिल्म इंडसट्री में गन्दी राजनीती करने का आरोप हैं. बिग बॉस भले ही होस्ट कर रहे हैं लेकिन सोशल मीडिया पर इसके चलते भी जमकर गालीया पड़ रही हैं.

करण जोहर के पिता यश जौहर जिन्होंने अपनी मेहनत से अपना मुकाम बनाया जिसका मज़ा करण जोहर लूट रहे हैं. वरना स्ट्रगल करना होता तो शायद ही ज़िंदगी में यहाँ तक पहुंच पाते.

करण ने एक बार बताया था की “मैं मुंबई में जहां पला-बढ़ा वहां लोग हिंदी फिल्में देखते ही नहीं थे। उनका था कि- हिंदी फिल्म इंडस्ट्री से आप हो कौन? मैं सबको झूठ बोलता था कि मेरे पिता बिजनेसमैन हैं। एक दिन वर्ली नाका पर मेरे पिता की फिल्म का बहुत बड़ा पोस्टर लगा था। फिल्म थी ‘मुकद्दर का फैसला’। वो इतिहास की सबसे बड़ी फ्लॉप फिल्म है।’

करण ने आगे बताया था, ‘यश जौहर..पता नहीं उन्होंने पोस्टर पर इतना बड़ा नाम क्यों लिख दिया था। मैं उस वक्त 8वीं या 9वीं में था। लोग पोस्टर दिखाकर पूछने लगे कि ये तुम्हारे पिता हैं यश जौहर? मैंने कहा नहीं तो…वो तो कोई और है, मेरे पिता तो बिजनेसमैन हैं।’

इसके कुछ समय बाद यश जौहर ने फिल्म, ‘अग्निपथ’ बनाई। फिल्म ज्यादा सफल नहीं हुई लेकिन युवाओं ने उसे काफी सराहा था। इस फिल्म के बाद करण ने अपने दोस्तों के सामने स्वीकार किया था कि यश जौहर उनके पिता हैं।

‘अग्निपथ में अमित जी (अमिताभ बच्चन) एक नए रोल में थे। युवाओं को बड़ा अच्छा लगा। तब सारे लड़के आने लगे कि अग्निपथ क्या तुम्हारे पापा ने बनाई, क्या फिल्म है यार! मैंने कहा हां, वो मेरे पापा ने ही बनाई है।’

सोचो जो इंसान बुरे समय में अपने पिता को अपने दोस्तों के सामने पहचाने से इंकार कर दे वो इंसान बॉलीवुड में गन्दी राजनीती और नेपोटिस्म को बढ़ावा नहीं देगा तो और क्या देगा. बचपन से ही जिसके दिमांग में राजनीती हो वो और कर भी क्या सकता हैं.


Like it? Share with your friends!

277

You may also like

More From: News

DON'T MISS