आर्यन जाएगा नशा मुक्ति केंद्र | पिछड़ी जाति के चलते समीर को निशाना बना रहे नवाब मालिक


अगर आप राजनीती करोगे तो सामनेवाला कहा चुप बैठेगा वो भी राजनीती करेगा. नवाब मालिक जिनके दामाद को एनसीबी ने ड्रग्स मामले में अरेस्ट किया था वो इस वजह से समीर वानखेड़े पर बार बार निशाना बना रहे हैं. अब ये बात रामदास आठवले ने भी कह दी हैं.

उनका यही कहना हैं की “वानखेड़े पिछड़ी जाति से हैं, इसलिए जानबूझकर उन्हें बदनाम किया जा रहा है। वो बहुत ही बेहतर अधिकारी हैं। एनसीबी अच्छा काम कर रही है। नवाब मलिक झूठे आरोप लगा रही हैं। जाँच एजेंसी ने उनके दामाद के खिलाफ कार्रवाई की थी, जिससे वो चिढ़े हुए हैं।”

साथ ही ये भी कहा की शाहरुख़ खान को बिना देर किये आर्यन खान को एक या दो महीने के लिए नशा मुक्ति केंद्र में भेज देना चाहिए, ताकि वो ड्रग्स की लत से छुटकारा पा सकें। यानी एक साथ कई तीर निशाने पर मार दिए है.

क्यूंकि अब तक नवाब मालिक, बॉलीवुड और लिबरल मीडिया ही मुस्लिम विक्टिम कार्ड खेल रहा था की मुस्लिम होने के चलते शाहरुख़ और आर्यन को निशाना बनाया जा रहा हैं. राजनीती यही थी की मुस्लिम वोटर्स को अपने साथ खड़ा किया जाये और मोदी सरकार के खिलाफ एक माहौल खड़ा किया जाये की बीजेपी मुस्लिमो से नफरत करती हैं. लेकिन रामदास आठवले ने भी समीर वानखेड़े को लेकर पिछड़ी जाति का कार्ड खेल दिया हैं.

वैसे समीर वानखेड़े को सपोर्ट करना ही चाहिए क्यूंकि वो बॉलीवुड और नशेड़ी गैंग पर अच्छा प्रहार कर रहे हैं.


Like it? Share with your friends!

219

You may also like

More From: News

DON'T MISS