जानिये क्यों हवाई जहाज का रंग सफेद ही होता है ? वजह जानकर दंग रह जाएंगे

हम सभी ने कभी न कभी किसी न किसी कारन से हवाई जहाज का सफर अवश्य ही किया हैं | हवाई जहाज का सफर इतना खूबसूरत होता हैं की आप एक एक पल को अपने कैमरा और दिल में सजों कर रख लेते हैं | हालाँकि की यात्रा करने के मामले में हवाई जहाज का सफर महंगा होता हैं लेकिन इसमें थकान बिलकुल ही नहीं होती हैं जिस यात्रा को आप २ दिन में तय करते है वो महज कुछ घंटो में ही पूरी हो जाती हैं |

 

लेकिन आपने कभी सोचा है की हवाई जहाज का रंग सफ़ेद ही क्यों होता हैं | किसी और रंग का क्यों नहीं ! अपने देखा होगा हवाई जहाज के दाएं – बाएं उसके पंखों का रंग कभी लाल तो कभी नीला होता हैं लेकिन बाकी का पूरा हिस्सा सफ़ेद रंग का होता हैं | दरअसल इन सब बातों के पीछे इसकी एक खास वजह हैं |चलिए तो बताते है इसके पीछे की सही वजह क्या हैं |

सफेद रंग गर्मी से बचाता है : जी हाँ , सफ़ेद रंग हवाई जहाज को गर्मी से बचता हैं और वो उष्मा का कुचालक रंग है | हवाई जहाज जब नीले आसमान में उड़ता हैं तब सूरज की तेज किरणे उसके ऊपर पड़ती हैं हवाई जहाज ज़ायदा गरम ना हो जाएं इसलिए उसे सफ़ेद रंग से रंगा जाता हैं |

1

दुर्घटना की स्थिति में आसानी से खोजा जा सकता है : दुर्घटना होना आसान बात है, हालाँकि ऐसा कोई भी नहीं चाहता हैं लेकिन होनी को कोई ताल नहीं सकता | दरअसल सुरक्षा की दृष्टि से भी हवाई जहाज जो सफ़ेद रंग से रंगा जाता हैं जिस से दुर्घटना के बाद आसानी से खोजा जा सकें |

2

सफ़ेद रंग सस्ता होता हैं : आमतौर पर एक हवाई जहाज को रंगने में एक महीने का समय लग जाता हैं | और उसे रंगने की प्रक्रिया में कूल ३ लाख से लेकर १ करोड़ तक का खर्चा आता हैं | बाकी रंग से रंगना काफी महंगा पड़ सकता हैं और कोई भी कंपनी इतना पैसा बर्बाद नहीं करना चाहेगी | इसलिए सफ़ेद रंग पर ज़ायदा ज़ोर दिया जाता हैं |

3

धूप में सफेद रंग हल्का नहीं पड़ता : हवाई जहाज अक्सर धुप में ही उड़ाते हैं और उन्हें धुप में ही खड़ा रखा जाता हैं | ऐसे में दूसरा रंग हल्का पद जाने का दर रहता हैं वहीँ सफ़ेद रंग धुप में हल्का नहीं पड़ता हैं | इसलिए कपंनियां हवार्ई जहाज को सफेद रंग ही देना पसंद करते हैं।

4

सफेद रंग में लगी चोट या डेन्ट का तुरन्त पता चल जाता है : सफ़ेद रंग की वजह से उसके रख रखाव में भी आसानी आती हैं, अगर जहाज के ऊपर कोई कोई चोट या डेंट लगी हैं तो उसे तुरंत सुधारा जा सकता हैं | क्यूंकि सफ़ेद रंग में डेंट बड़ी आसानी से दिख जाती हैं |

5

प्लेन का वजन कम रहता है : हवाई जहाज पर रंगों का भी काफी असर पड़ता हैं | दुसरे रंग का इस्तेमाल करने से हवाई जहाज का वज़न बढ़ जाता हैं और ईंधन भी ज़ायदा लगता हैं | वहीँ सफ़ेद रंग हल्का होता हैं और पेट्रोल भी बचाता हैं क्यूंकि अधिक वज़न मतलब ज़ायदा ईंधन | इस तरह हवाई जहाज को उड़ाने में कंपनियों को खर्चा भी कम आता है।

6

तो यही बात है जिसकी वजह से हवाई जहाज का रंग सफ़ेद होता हैं | अगर यह पोस्ट आपको अच्छी लगी तो इसे आगे भी शेयर करें |

Do not forget to share and let us know your views please write in the comments section below.

Like Us On Facebook : BoomIndya  | Follow Boom Indya On Instagram

Hope you liked this article, if you have any suggestions / feedback regarding this article, mail : [email protected]

Image Source : UrbanIndia

You may also like...